कुचेसर का किला

दिशा

राव राज विलास के नाम से भी जाना जाने वाला यह किला 18वीं शताब्दी का किला है। यह पौराणिक धरोहर, अजीत सिंघ के परिवार की पैतृक संपत्ति है जिनकी कुचेसर में रियासत थी। सन् 1734 में बना यह किला चारों ओर से 100 एकड़ में फैले आम के बागों से घिरा हुआ है। इस किले की सन् 1998 में फिर से नीमराना होटल की देखरेख में मरम्मत की गयी। जाट शासकों द्वारा बनाया गया यह किला होटल मड किले के नाम से विश्वप्रसिद्ध है।

फोटो गैलरी

  • आउटर कुचेसर फोर्ट
  • कुचेसर फोर्ट

कैसे पहुंचें:

बाय एयर

निकटतम हवाई अड्डा नई दिल्ली में आईजीआई हवाई अड्डा है और कुचेसर किला एनएच -24 पर बुलंदशहर जिले के चोपला कुचेसर से 7 किमी दूर स्थित है, जो गढ़ के निकट हैं।

ट्रेन द्वारा

निकटतम रेलवे स्टेशन हूपुर और बुलंदशहर कुचेसर किले जाने के लिए है जो चोपला कुचेसर से 7 किमी दूर स्थित है, एनएच -24 पर बुलंदशहर जिला, जो गढ़ के निकट हैं।

सड़क के द्वारा

कुचेसर किला चोपला कुचेसर से 7 किमी दूर स्थित है, एनएच -24 पर बुलंदशहर जिला, जो गढ़ के लिए जाता है। इसलिए वहां जाने के लिए कई बसें उपलब्ध हैं।